Vyakaran in Hindi Grammar # व्याकरण किसे कहते हैं और व्याकरण के प्रकार

इस आर्टिकल में व्याकरण क्या होता हैं- (Vyaakaran kya hota hain), व्याकरण की परिभाषा और व्याकरण के प्रकार आदि के बारे में बताया गया हैं। जिसे आप पढ़कर आसानी से व्याकरण Vyakaran को समझ सकते हैं।

Vyakaran Kise Kahate Hain – व्याकरण किसे कहते हैं

Vyakaran in Hindi Grammar # व्याकरण किसे कहते हैं और व्याकरण के प्रकार
Vyakaran in Hindi Grammar # व्याकरण किसे कहते हैं और व्याकरण के प्रकार

व्याकरण (Vyakaran) – व्याकरण उस शास्त्र को कहते हैं जिसके पढ़ने से मनुष्य किसी भी भाषा को शुद्ध-शुद्ध लिखना और बोलना सीखता हैं।

इस परिभाषा से यह अस्पस्ट होता है की हमें किसी भी भाषा (Language) को सिखने के लिए उस भाषा का व्याकरण (Grammar) का ज्ञान होना अति आवश्यक हैं।

व्याकरण के प्रकार:–

भाषा की तरह ही व्याकरण के अलग-अलग प्रकार होते है जैसे की –

  1. हिंदी भाषा के लिए हिंदी व्याकरण- Hindi Grammar✔️
  2. अंग्रेजी भाषा के लिए अंग्रेजी व्याकरण- English Grammar✔️
  3. संस्कृत भाषा के लिए संस्कृत व्याकरण- Sanskrit Grammar✔️

इत्यादि।

व्याकरण के खण्ड:–

किसी भी भाषा में भाव की अभिव्यक्ति वाक्यों से होती है। वाक्य शब्दों के मेल से बनते है और शब्द वर्णों के मेल से बनते हैं। इस तरह से वाक्य, शब्द और वर्ण, भाषा के मूलाधार हैं।

इसी आधार पर व्याकरण – Vyakaran के तीन खण्ड होते हैं –

  1. वर्ण-विचार✔️
  2. शब्द-विचार✔️
  3. वाक्य-विचार✔️

अंतिम विचार:– हिंदी डीपी

आप यह हिंदी व्याकरण के भाग को भी पढ़े:–

भाषा किसे कहते हैं और इसके कितने प्रकार होते हैं।

Leave a Comment