GST Full Form In Hindi & English – GST Kya Hai?

फुल फॉर्म के इस भाग मे आपको GST Full Form In Hindi & English – GST Kya Hai? क्या होता है, जी एस टी क्या होता है आदि जैसी जानकारी इस पोस्ट मे दी गई है। तो चलिए जानते है GST के बारे में।

Read more- Whatsapp About Lines In Hindi

GST Full Form In Hindi & English – GST Kya Hai?
GST Full Form In Hindi & English – GST Kya Hai?

GST Full Form In Hindi & English

GST Ka Full Form English में ‘Goods And Service Tax’ होता है तथा हिंदी में जीएसटी फुल फॉर्म ‘वस्तु एवं सेवा कर’ होता है। जी एस टी एक प्रकार से भारत देश मे नई प्रकार से टैक्स नीति है, यह एक प्रकार का इनडायरेक्ट टैक्स है।

GST Kya Hai?

जी एस टी एक प्रकार का अप्रत्यक्ष कर है जिसे अंग्रेजी मे Indirect Tax कहते है और इसके अंतर्गत सभी वस्तुओं और सेवाओं पर लगने वाले कर को लगभग एक समान कर दिया गया है। जिससे देश मे पूरे जगह पर केवल एक ही प्रकार के टैक्स कार्य करेगा।

देश में सरकार ने तथा बड़े-बड़े अर्थशास्त्रियों ने गुड्स एड सर्विस टैक्स को काफी अच्छा कर सुधार बताया तथा देश को आगे बढ़ाने वाला बताया। इसके द्वारा सभी जन एक ही टैक्स के दायरे मे आ गये।

GST बिल पास होने से पहले सामानों पर 30 से 35 प्रतिशत तक टैक्स देना पड़ता था पर अब GST आने के बाद से यह कर अधिकतम 28 प्रतिशत तक का ही हो गया है, जिससे कई सामानों पर लगने वाला कर कम हो गया है।

इसे भी देखें – UAPA Full Form

जी एस टी का इतिहास

विश्व मे पहली बार GST फ्रांस में शुरु हुआ, जो की फ्रांस मे 1954 मे लागू किया गया था। इसी के बाद से 160 अन्य देशों ने भी जी एस टी अपने देश मे लागू कर दिया है।

इसके बाद भारत देश GST लागू कर दिया जो की दुनिया का 161 देश बन गया है और भारत ने एकल GST लागू किया है, जबकि ब्राजील और कनाडा ने दोहरा GST लागू किया है।

GST in india

भारत मे GST को 1 जुलाई 2017 को लागू कर दिया गया और इसी दिन को जी एस टी दिवस के रूप मे भी मनाया जाता है।

122वाँ संविधान संशोधन बिल 2014 को संसद मे प्रस्तुत किया गया, जिसके बाद, 3 अगस्त 2016 को लोकसभा से तथा 8 अगस्त 2016 को राज्यसभा से यह बिल पास हो गया।

उसके बाद 8 सितम्बर 2016 को राष्ट्रपति ने GST बिल को अपनी मंजूर दे दी। जिसके तहत GST लागू कर दिया गया 101वें संविधान संशोधन के द्वारा।

जी एस टी को भारत मे लागू करने का सुक्षाव विजय केलकर समिति ने दिया था, जिससे की पुरे देश मे एक ही प्रकार का कर प्रयोग किया जाए। उस समय के तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे लागू किया था।

GST को लागू करते वक्त संसद मे अरुण जेटली जी ने कहा था की जीएसटी के द्वारा एक देश, एक बाजार हो जाएगा तथा इसके द्वारा देश के आर्थिक विकास मे भी तेजी देखने को मिलेगी। यहाँ ध्यान रहे GST Ka Full Form In Hindi गुड्स एंड सर्विस टैक्स होता है।

Also See – Telegram Bio In Hindi

Also, See – IDBI Se Bank Loan Kaise Milega

GST Ke Prakar – जीएसटी के प्रकार

भारत देश मे जी एस टी कुल चार प्रकार से लागू होता है, जो कि निम्नलिखित है-

CGST – केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर

CGST Ka Full Form Central Goods & Service Tax होता है, यह टैक्स केन्द्र सरकार द्वारा लगाया जाता है। यह एक केंद्रीय बिक्री कर, केंद्रीय उत्पाद कर, सेवा कर के रूप मे भारत सरकार लेती है CGST के रूप में। इसका निर्माण 2016 मे किया गया था।

SGST – राज्य माल और सेवा कर

यह टैक्स राज्य सरकारो द्वारा लगाया जाता है। इसमे जीसटी बिल 2016 में राज्यों के माल और सेवाओं पर करों का प्रावधान है। इसे लक्जरू टैक्स, मनोरंजन कर, एंट्री टैक्स, बिक्री कर आदि को जोड़ा गया है।

UTGST – केंद्र शासित प्रदेश के लिए वस्तु और सेवा कर

केंद्र शासित प्रदेशों को जीएसटी बिल के द्वारा एक अलग विशेष श्रेणी मे रखा गया है। जिसे हम केंद्र शासित प्रदेश माल और सेवा कर के रूप मे जानते है। जिसके द्वारा केंद्र शासित प्रदेशों मे एक समान कर को लागू किया गया है।

IGST – एकीकृत माल और सेवा कर

एसकी पूर्ण रूप एकीकृत माल और सेवा कर होता है। यह कर उस वस्तुओं पर लगाया जाता है जो वस्तुएं एक राज्य से दुसरे राज्य मे जाती या लाई जाती है। इसमे सेवाओं की आपूर्ति और आदान प्रदान को भी सम्मिलित किया गया है।

Also See – AIIMS Full Form Hindi

Also See – Attitude Bio For Telegram

इसे भी देखें- Full Form Of ASP

जीएसटी टैक्स स्लैब – GST TAX SLAB

जीएसटी परिषद ने कुल चार प्रकार के टैक्स स्लैब बनाएं है, जिनके अंतर्गत वस्तुए बेंची व खरीदि जाती है।

  1. 5%⇦
  2. 12%⇦
  3. 18%⇦
  4. 28%⇦

GST मे आम जनता के लिेए उपयोगी वस्तुओं जिनकी संख्या 80 है को जी एस टी से बाहार रखा गया है, और 12011 वस्तुओं पर इस चार प्रकार के करों को लगाया गया है।

यहाँ यह ध्यान रहे की सरकार ने सिगरेट, शराब और पेट्रोलियम उत्पादों जैसे डीजल, केरोसीन, एलपीजी और पेट्रोल को जी एस टी के कर की दरो से बाहार रखा है।

वस्तु का नामपूर्व दरजीएसटी दर
बाहरी खान-पान (ITC के बिना)18%5%
कैफीनयुक्त पेय पदार्थ18%28%+12% सेस
डायमंड जॉब के कार्य पर5%1.50%
फूल, पत्तियों और पेड़ की छाल से बने प्लेट्स और कप5%0%
अन्य जॉब कार्यों पर18%12%
बुना या गैर-बुना पॉलीथीन पैकेजिंग बैग18%12%
10-13 यात्रियों की क्षमता वाले पेट्रोल मोटर वाहनों पर उप कर 15%1%
समुद्री ईंधन18%5%
होटल (7,501 रुपए या उससे अधिक वाले कमरों पर शुल्क पर)28%18%
स्लाइड फास्टनर्स18%12%
होटल (रूम टैरिफ 1,001 रुपये से 7,500 रुपये तक)18%12%
10-13 यात्रियों की क्षमता वाले डीजल मोटर वाहनों पर उप कर 15%3%
सूखी हुई इमली5%0%
काटकर पॉलिश किया गए अर्द्ध कीमती पत्थर3%0.25%
बादाम का दूध%0%18
वेट ग्राइंडर या गीली चक्की (पत्थर के रूप में)12%5%
रेलवे की वैगनों और डिब्बों की आपूर्ति पर (ITC के बिना)5%12%
हाइड्रो-कार्बन अन्वेषण लाइसेंसिंग नीति के अंतर्गत पेट्रोलियम संचालन के लिए सामानलागू दर5%
GST Full Form In Hindi & English

इसके बारे मे और जानने के लिए यहाँ क्लिक करें-

More Gst DetailsGst Online
Hindi Dp HomeVisit Now
GST Full Form In Hindi & English

GST Tax Free Items List

  • स्टांप पेपर⇦
  • मुद्रित किताबें⇦
  • अखबार⇦
  • चूड़ियां⇦
  • दूध⇦
  • छाछ⇦
  • चिकन⇦
  • अंडा⇦
  • आटा⇦
  • बेसन⇦
  • हैंडलूम⇦
  • अनाज⇦
  • काजल⇦
  • बच्चों की ड्राइंग⇦
  • कलर बुक⇦
  • दही⇦
  • प्राकृतिक शहद⇦
  • सिंदूर⇦
  • ताजा फल⇦
  • सब्जियां⇦
  • जूट⇦
  • ताजा मीट⇦
  • मछली⇦
  • ब्रेड⇦
  • प्रसाद⇦
  • नमक⇦
  • बिंदी⇦
  • इत्यादि⇦

इसे भी देखें- Sorry Shayari In HIndi

Note: यहाँ ध्यान रहे की एक हजार रुपये से कम कीमत वाले होटल और लॉज, स्टांप पेपर आदि चीज़े भी जीएसटी से बाहार हैं।

GST Full Form In Hindi & English

GST के महत्वपूर्ण बिन्दु

भारत मे जीएसटी 1 जुलाई 2017 को लागू किया गया। यह कनाटा देश के मॉडल पर आधारित है।✔️

GST Full Form- Good & Service Tax है।✔️

जी एस टी को 123वाँ संविधान संशोधन बिल 2014 में प्रस्तुत किया गया था।✔️

लोकसभा ने 3 अगस्त 2016 को तथा राज्यसभा ने 8 अगस्त 2016 को यह बिल पास कर दिया था।✔️

जीएसटी बिल पर राष्ट्रपति ने अपनी मंजूरी 8 सितम्बर 2016 को दे दी थी।✔️

101वाँ संविधान संसोधन के तहत GST को पूरे देश मे लागू कर दिया गया।✔️

जी एस टी के कर दरें – 5%, 12%, 18%, 28%✔️

जी एस टी परिषद की स्थापना 12 सितम्बर 2016 को की गई थी।✔️

GST परिषद के अध्यक्ष वित्त मंत्री होता है।✔️

GST मे 17 अप्रत्यक्ष कर और 23 अधिभार को शामिल किया है।✔️

GST के पंजीकरण की संख्या 15 डिजिट कि होती है।✔️

भारत GST लागू करने वाला दुनिया का 161वाँ देश है।✔️

इसे भी देखें- NITI Aayog Full Form

More Full Form Of GST

  1. GST Full Form Hindi in Psychology- General Strain Theory✔️
  2. GST Full Form Hindi in Time Zones- Gulf Standard Time✔️
  3. Full Form OF GST Hindi in Business- Terms General Sales Tax✔️
  4. GST Full Form English in Biochemistry- Glutathione S-Transferase✔️
  5. CGST Full Form- Central Good & Service Tax✔️
  6. SGST Full Form- State Good & Service Tax✔️
  7. IGST Full Form- Integrated Good & Service Tax✔️

Check more- funny shayari dp

Check more: whatsapp dp joker

FAQs: GST

जीएसटी का पूरा अर्थ क्या होता है?

GST का Full Form होता है Goods and Services Tax. GST का फुल फॉर्म दो शब्दों से बना हुआ है, Goods और Services Tax. … Services Tax का मतलब Central Tax, State Tax या किसी वस्तु या सेवाओं(Services) की आपूर्ति पर Tax होता है. जैसा की मैं पहले ही बता चूका हूँ, GST का पूरा नाम Goods and Services Tax होता है.

जीएसटी कब लागू हुआ in English?

वस्तु एवं सेवा कर ( संक्षेप मे: वसेक या जीएसटी अंग्रेज़ी: GST, अंग्रेज़ी: Goods and Services Tax) भारत में 1 July 2017, से लागू एक महत्वपूर्ण अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था है जिसे सरकार व कई अर्थशास्त्रियों द्वारा इसे स्वतंत्रता के पश्चात् सबसे बड़ा आर्थिक सुधार बताया है।

जीएसटी कितने प्रकार के होते हैं in English?

जीएसटी के तीन प्रकार हैं:
CGST (केंद्रीय माल एवं सेवा कर)
SGST (राज्य वस्तु एवं सेवा कर)
UTGST (केंद्र शासित प्रदेश माल एवं सेवा कर)
IGST (एकीकृत माल एवं सेवा कर)

GST रिटर्न क्या है?

जीएसटी रिटर्न एक दस्तावेज है जिसके बारे में विवरण हैआय एक पंजीकृत करदाता को कर प्राधिकारियों के पास दाखिल करना होता है। कर प्राधिकरण इसका उपयोग कर देयता की गणना के लिए करते हैं।

SGST क्या है?

SGST क्या है? SGST का फुल फॉर्म है State Goods and Service Tax. यानी जब किसी वस्तु या सेवा की राज्य के भीतर आपूर्ति होती है, तो राज्य सरकार के हिस्से में जाने वाला टैक्स स्टेट जीएसटी कहलाता है.

तो आपको यह पोस्ट GST Full Form Hindi English की कैसी लगी जरूर बताए, इससे संबंधित सारी जानकारी इस पोस्ट मे दी गई है। अगर कुछ और पुछना हो तो आप नीच कमेंट जरूर करें।

Leave a Comment